Monday, July 19, 2010

दिल और दिमाग.... HEART AND MIND ...


प्यारे दोस्तों, मुझे एक साधारण सी बात आपको बताना है कि, ये हम ही होते है , जो जीवन और भगवान की सुंदरता को अनदेखा करते है ...ये कार्य जाने अनजाने में होता है और ये होता है हमारे दिमाग के हस्तक्षेप के कारण !!! दिमाग का अपना तरीखा होता है जीवन जीने की प्रक्रिया को निर्धारित करने का ...और ये करता है अपने आसपास चीज़ों को देखकर और इनकी तुलना हमारे मस्तिष्क में मौजूद हमारे अतीत की छवियों और इनसे जुडी हुई धारणाओं के कारण !!! इस पूरी प्रक्रिया में जीवन खराब हो जाता है और हमारे जीवन को ख़राब करने के लिए दिमाग सहायता लेता है तर्कों की , कल्पनाओं की , धारणाओं की और यादों की .. ये सब कुछ मिलकर हमें रोक देते है की हम अपना वास्तविक जीवन को प्रेमपूर्वक देखे ... और भगवान के द्वारा बनाई गई प्रकृति का आनंद नहीं ले पाते है . तो बस अपने दिल का पालन करें, क्योंकि जब दिमाग रुक जाता है, तो जीवन शुरू होता है और जब जीवन बढ़ता है, तो प्यार होता है और जब प्यार किसी सुन्दर फूल की तरह खिलेंगा तो वो एक आनंद का क्षण होगा, खुशी का पल होंगा और आत्मा की सबसे अच्छी गूँज होंगी .. सबसे बढ़िया दिल की धड़कन होंगी .... और हमें लगता है की पृथ्वी पर सबसे सुन्दर घटना सिर्फ हमारा जीवन ही है .... और बहुत ही आश्चर्य की बात की आपके सभी सपनों को हकीकत में बदलते हुए आपका जीवन आपके साथ रहेंगा.... इसलिए सिर्फ अपने दिल की बातो का पालन करे ...जीवन आपकी राह देख रहा है दोस्तों ... आप सबको भगवान का आशीर्वाद मिले ... ..!!!


Dear Friends, let me tell you one simple thing that, it is only we, who overlook the beauty of life and GOD; just because of intervention of our mind. Mind has its own way of looking at the things around and than it shapes our life based on the images of our past experience and other mechanical inputs. In the process the life gets deteriorated and spoiled and get covered by logics, imaginations, perceptions and memories. All this put together stops us to see the real life and what it is for us in the whole scenario created by GOD. So simply Please follow your heart because when mind stops, life begins and when life grows, love happens and when love blossoms; than that will be the moment of bliss , the moment of joy and the most happening heartbeat of soul…..life is just than most happening thing on the earth ...and very surprisingly it will be your own life full of all the dreams converted into reality. So believe, follow and mind your HEART. HAPPY LIVING FRIENDS…….!!! GOD BLESS YOU …..!!!


8 comments:

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर बात कही आप ने धन्यवाद

वन्दना said...

दिल और दिमाग की जंग तो हमेशा से रही है बस समझदार वो ही है जो अपने को इन दोनो मे से किसी के भी हाथों मे ना सौंपे……………कभी दिल सही होता है तो कभी दिमाग बस जो भी करे आपस मे संतुलन बना कर करे।

Mrs. Asha Joglekar said...

Vijay ji bahut sunder aur sarthak bat kahee hai. hum jab dil se kam lkarana band karte hain tabhee se jeevan ki sunderta se vanchit ho jate hain. Jeevan sunder hai. ise jee bhar ke jiyen.

राजीव कुमार कुलश्रेष्ठ said...

सुन्दर शब्दों की बेहतरीन शैली
भावाव्यक्ति का अनूठा अन्दाज
बेहतरीन एवं प्रशंसनीय प्रस्तुति
हिन्दी को ऐसे ही सृजन की उम्मीद
धन्यवाद....साधुवाद..साधुवाद
satguru-satykikhoj.blogspot.com

राजीव कुमार कुलश्रेष्ठ said...

ब्लाग पर आना सार्थक हुआ
काबिलेतारीफ़ है प्रस्तुति
आपको दिल से बधाई
ये सृजन यूँ ही चलता रहे
साधुवाद...पुनः साधुवाद
satguru-satykikhoj.blogspot.com

Sonal said...

nice article....

Meri Nayi Kavita par aapke Comments ka intzar rahega.....

A Silent Silence : Zindgi Se Mat Jhagad..

Banned Area News : Zac Efron says he's one woman guy

Connie Arnold said...

Thank you for your nice comment on my blog! I couldn't read your poems, but the photos were beautiful and spoke to my heart! This is a beautiful post. Blessings to you!

Sushma Mallya said...

lovely write up vijay, and thanks a lot for dropping by...