Sunday, November 21, 2010

आईये धन्यवाद दे.......!!!


आईये धन्यवाद दे अपनी माता पिता को जिन्होंने  हमें जन्म दिया और हमें पाला पोसा .


फिर धन्यवाद दे धरती माता को जो हमारा भार सह रही है और हमें जीने के लिए संसाधन देती है.


फिर धन्यवाद दे नदियों को जो हमें पानी देते है.


फिर धन्यवाद दे खेतो को और किसानो को जो हमें अनाज देते है.


फिर धन्यवाद दे उन सभी पेड़ पौधों को और जड़ी बूटियों को जो हमें फल,फूल और औषधि देते है.


फिर धन्यवाद दे चन्द्रमा और तारो को जो की हमें रौशनी देते है , जब सुरज डूब जाता है.


फिर धन्यवाद दे सूरज को जो हम पर कृपा भाव रखकर हमें सिर्फ रौशनी देता है.


और सबसे अंत में धन्यवाद देवे उस परमपिता ईश्वर को जो बिना कहे ही हमारे दुखो को दूर करता है और हमें ज़िन्दगी जीने का एक महान अवसर देता है.



प्रणाम !!!!



10 comments:

M VERMA said...

यकीनन ये धन्यवाद के पात्र हैं

डॉ. नूतन - नीति said...

haath jod kar hame hamare astitv ko pradan karne me sahayak hamare janak, prithvi chaand tare suraj vanaspati, jeev jagat ko pranaam.. aapka bhi dhanyvaad sundar post ke liye..

श्रद्धा जैन said...

man shuddh ho gaya aapke blog par aakar
bahut shanti hai

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

सच में हमें इन सबके प्रति आभारी होना चाहिए..... यक़ीनन धन्यवाद के पात्र हैं ........धन्यवाद इस हृदयस्पर्शी पोस्ट के लिए

mark rai said...

very nice post and innovative...

केवल राम said...

यक़ीनन ....धन्यवाद के पात्र हैं ..और आपने याद दिला दिया ...शुक्रिया

GirishMukul said...

वाह सप्पति जी वाह
जबलपुर तो खूब याद आता होगा है न ?

दीप said...

सुन्दर प्रस्तुति
बहुत - बहुत शुभकामना

Harman said...

Merry Christmas
hope this christmas will bring happiness for you and your family.
Lyrics Mantra

sushma 'आहुति' said...

sir very nice post... sabse pahle main apko bhut bhut dhanyavaad kahna chahugi ki apne meri kavita ki sarahna ki... mujhe bhut accha laga apka blog pad kar..bhut alag sa hai apka blog..very nice...