Wednesday, May 11, 2011



मेरे प्यारे दोस्तों, आज का दिन एक और नया दिन है आपके जीवन में .इसके लिए प्रभु को धन्यवाद देना न भूले और इस दिन की तथा हर दिन की शुरुवात कुछ इस तरह से करे.
१.      आँखे बंद करके दुनिया के लिए प्रार्थना करे.
२.     मुस्कराईये
३.     अतीत को भूल जाए.
४.     खुद के सहित सभी को माफ़ करे.
५.    दिल खोलकर हंसिये.
६.      धीरे से kiss  करे.
७.    बच्चो की तरफ देखकर हाथ हिलाए.
८.     प्रकृति में समां जाईये.
९.      अपने काम में १००%  effort दीजिये.
१०.  अपने दिल, दिमाग और शरीर को शांत रखे .
११.  सबके प्रति दयालु बने रहे.
१२. प्रकृति में हर किसी के लिये प्रेम रखे .
और हाँ , सबसे मुख्य बात अपने जीवन से प्रेम करना न भूले .
धन्यवाद और प्रणाम
विजय

5 comments:

Prarthana gupta said...

aapne bahut sahi likha hai!!!!!!!!
SAMARPAN SE HI PRABHU KI PRAPTI HAI...........

राज भाटिय़ा said...

बहुत सुंदर संदेश, शायद इन १२ बातो मे हम ११ तो जरुर ही करते हे, हर रोज, धन्यवाद

BrijmohanShrivastava said...

सारे सूत्र जीवन में अपनाने लायक । मैने सूत्र क्रमांक 6 को छोड कर सारे नोट करलिये है बडे बडे अक्षरों मे लिख कर टांगूंगा और अमल करने की कोशिश करुगंा ,हंसूगा मुस्कराउगा। चित्त को शान्त ररखने की कोशिश करुंगा अतीती को भूलना तो मुश्किल है चौबीस घन्टे दिमाग पर छाया रहता है फिर भी कोशिश जारी रहेगी

mahendra srivastava said...

बढिया है.. अच्छे संदेश

Mrs. Asha Joglekar said...

जिंदगी जीने का कितना खूबसूरत अंदाज बताया है आपने ।